7 days leave in Tamil Nadu on Karunanidhi s demise
शहर विशेष
करुणानिधि के निधन पर तमिलनाडु में 7 दिन का अवकाश
चेन्नई,07/अगस्त/2018/ITNN>>> द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) सुप्रीमो एवं तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि का मंगलवार को कावेरी अस्पताल में निधन हो गया। वह 94 वर्ष के थे। कावेरी अस्पताल की ओर से जारी बुलिटेन के अनुसार करुणानिधि ने शाम 6 बजकर 10 मिनट पर अंतिम सांस ली। वह काफी दिनों से बीमार चल रहे थे और स्थिति बिगडऩे पर उन्हें 28 जुलाई को अस्पताल में भर्ती किया गया था। 

करुणानिधि का पार्थिव शरीर गोपालपुरम स्थित उनके घर लाया जाएगा
* राजा जी हॉल में अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा पार्थिव शरीर
* तमिलनाडु सरकार ने 7 दिन का अवकाश घोषित किया
* करुणानिधि के अंतिम सस्कार की जगह को लेकर खींचतान
* DMK ने मरीना बीच पर संस्कार के लिए मांगी जगह
* राज्य सरकार ने मरीना बीच पर जगह देने से किया इंकार
* तमिलनाडु सरकार ने गांधी मंडपम के पास दी जगह
* मरीना,मरीना के नारे लगा रहे समर्थक
* मरीना बीच पर दफनाने की मांग कर रहे समर्थक

उनके निधन का समाचार फैलते ही पूरे राज्य में शोक की लहर दौड़ गयी। कल रात उनकी हालत गंभीर होने के बाद से ही बड़ी संख्या में लोग अस्पताल के बाहर जमा होना शुरू हो गए थे और आज शाम भारी भीड़ जमा थी। आपको बतां दे कि इससे पहले सोमवार को भी अस्पताल की तरफ से जारी मेडिकर बुलेटिन में करुणानिधि की हालत बेहद नाजुक बताई गई थी। 

कल जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार उनके शरीर के महत्‍वपूर्ण अंगों को कार्य करने लायक बनाए रखना चुनौती बना हुआ है। कावेरी अस्पताल ने एक बयान जारी कर कहा कि 94 वर्षीय पूर्व मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य की लगातार निगरानी की जा रही है और वह मेडिकल सपोर्ट पर हैं। उसके अनुसार,'द्रमुक अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री एम.करुणानिधि का स्वास्थ्य बिगड़ा है। ज्यादा उम्र होने के कारण उनके शरीर के महत्वपूर्ण अंगों की कार्य क्षमता को बनाए रखना चुनौती साबित हो रही है। 

करुणानिधि ने इसी साल तीन जून को अपना 94वां जन्मदिन मनाया था। ठीक 50 साल पहले 26 जुलाई को ही उन्होंने डीएमके की कमान अपने हाथ में ली थी। लंबे समय तक करुणानिधि के नाम हर चुनाव में अपनी सीट न हारने का रिकॉर्ड भी रहा है। वो पांच बार मुख्यमंत्री और 12 बार विधानसभा सदस्य रहे थे. अभी तक वह जिस भी सीट पर चुनाव लड़े थे,उन्होंने हमेशा जीत दर्ज की।