शहर विशेष
स्टरलाईट विवाद बढ़ाई गई अभिनेता रजनीकांत के आवास की सुरक्षा
चेन्नई,31/मई/2018/ITNN>>> स्टरलाईट मामले पर अभिनेता रजनीकांत के बयान के बाद प्रशासन ने एहतियातन आज उनके आवास की सुरक्षा बढ़ा दी है। रजनीकांत ने कहा था कि तूतीकोरिन में स्टरलाईट के खिलाफ चल रहे आंदोलन में असामाजिक तत्व घुसपैठ कर रहे हैं। इस मामले में पुलिस की गोलीबारी से 13 लोग मारे गए थे। 

अभिनेता के बयान से नाराज कुछ संगठनों घोषणा की थी कि तूतीकोरिन में स्टरलाईट कंपनी के खिलाफ आंदोलन कर रहे लोगों को असामाजिक तत्व बताए जाने के विरोध में वे रजनीकांत के पॉस गार्डेन स्थित आवास का घेराव करेंगे और उनसे माफी मांगने तथा बयान को वापस लेने की मांग करेंगे। इसके बाद एहतियातन प्रशासन ने उनके आवास की सुरक्षा के लिए 200 से ज्यादा पुलिसकर्मियों को तैनात किया है। आम नागरिकों को उनके आवास की ओर जाने की अनुमति नहीं दी गई है। 

सभी सड़कों को कर दिया गया सील
रजनीकांत के आवास की ओर जाने वाली सभी सड़कों को सील कर दिया गया है, और सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। इस इलाके में जाने वाली सभी गाडिय़ों को पूरी तरह से जांच के बाद ही प्रवेश की अनुमति दी जा रही है। राजनीति में प्रवेश करने की घोषणा के बाद रजनीकांत पहली बार किसी सार्वजनिक गतिविधि में शिरकत करते हुए तूतीकोरिन गए और पुलिस गोलीबारी में मारे गए लोगों के परिजनों से मुलाकात की। 

उन्होंने हताहत लोगों के परिजनों के लिए मुआवजे की मांग भी की है। हालांकि रजनीकांत ने राज्य सरकार के उस बयान से सहमति जताई जिसमें कहा गया था कि प्रदर्शन उस वक्त हिंसक हो गया जब कुछ असामाजिक तत्वों ने पुलिसकर्मियों पर आक्रमण कर दिया। रजनीकांत ने गुस्से में यह भी कह दिया कि यदि राज्य के लोग हर बात के लिए प्रदर्शन करेंगे तो तमिलनाडु एक कब्रिस्तान में बदल जाएगा।