शहर विशेष
राज ठाकरे के बोल- अजान के लिए लाउडस्पीकर की क्या जरूरत
नई दिल्ली,28/जुलाई/2018/ITNN>>> महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे ने मुसलमानों को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्होंने लाउडस्पीकर पर पढ़ी जाने वाली अजान को लेकर सवाल खड़े किए हैं। ठाकरे ने मुसलमानों को कहा कि नमाज घर में पढ़ो रास्ता क्यों बंद करते हो। इसके साथ ही उन्होंने पूछा कि अजान के लिए मुस्लिमों को लाउडस्पीकर की क्या जरूरत? 

मनसे प्रमुख ने कहा कि मैं आज महाराष्ट्र और देश के तमाम मुसलमानों से बोलता हूं कि तुम्हें सुबह की अजान के लिए लाउडस्पीकर क्यों चाहिए? किसको बताना चाहते हो? उन्होंने कहा कि नमाज पढ़ना है तो घर में पढ़ो रास्ता क्यों बंद कर रहे हो? सब लोग अपनी-अपनी जिम्मेदारी खुद समझो. जिससे देश या राज्य में किसी भी तरह के संघर्ष की स्थिति पैदा न हो। इसके साथ ही ठाकरे ने कहा कि मैं कोई ज्योतिष नहीं हूं लेकिन जो मैंने कहा है वह हुआ है। 

उन्होंने कहा कि मैंने पहले ही कहा था कि चुनाव से पहले भाजपा वाले राम मंदिर का मुद्दा उठाएंगे। अब चार साल बाद इन्हें भगवान राम की याद आई है,राम मंदिर बनना चाहिए लेकिन चुनाव के बाद। उन्होंने कहा कि जब भाजपा सरकार में आई थी, तभी राम मंदिर बनना चाहिए था। मनसे प्रमुख ने महाराष्ट्र मेंआरक्षण को लेकर चल रहे मराठाओं के आंदोलन का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि राज्य में हो रही हिंसा सरकार की नाकामी का प्रतीक है, अगर ये लोग सुरक्षा नहीं दे सकते हैं तो सत्ता संभालने का कोई हक नहीं है।

गौरतलब है कि नमाज को लेकर बॉलीवुड सिंगर सोनू निगम भी सवाल उठा चुके हैं। साल 2017 में सोनू निगम ने ट्वीट कर कहा था मैं मुस्लिम नहीं हूं लेकिन रोज सुबह मुझे अजान की आवाज से उठना पड़ता है। आखिर कब भारत से ये जबरन धार्मिक भावना थोपना खत्म होगा? जब मोहम्मद ने इस्लाम बनाया था तब बिजली नहीं थी। हालांकि उनके इस बयान के बाद काफी बवाल भी हुआ था।