BJP gets majority in Karnataka, Sensex crosses 36000, 450 points
अर्थ व्यवस्था
कर्नाटक में BJP को बहुमत मिलता देख सेंसेक्स 36000 के पार,450 प्वाइंट चढ़ा
नई दिल्ली,15/मई/2018 (ITNN) >>> कर्नाटक में नतीजों के रूझान आना शुरू हो गए हैं. बीजेपी कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी बनकर सामने आ रही है. बीजेपी को कर्नाटक में बढ़ता देख देश का शेयर बाजार भी झूम उठा है. सेंसेक्स में जबरदस्त तेजी देखने को मिल रही है. सेंसेक्स 450 अंक से ज्यादा चढ़ गया है. 

कर्नाटक चुनाव के वोटों की गिनती के दौरान शुरुआती रुझानों में बीजेपी के बढ़त बनाने के बाद सेंसेक्स 450 अंक से ज्यादा चढ़कर 36000 के पार निकल गया है. वहीं,निफ्टी भी 120 अंक चढ़कर 10930 के आसपास कारोबार कर रहा है. सेंसेक्स और निफ्टी में करीब 1 फीसदी से ज्यादा की मजबूती देखने को मिल रही है.

450 अंक चढ़ा सेंसेक्स
बाजार की शुरुआत सपाट हुई थी, लेकिन फिलहाल सेंसेक्स 450 अंक यानी 1.18 फीसदी की मजबूती के साथ 36000 के स्तर पर कारोबार कर रहा है. वहीं,निफ्टी 127 अंक यानी 1.20 फीसदी की मजबूती के साथ 10,927 के स्तर पर कारोबार कर रहा है.

मिडकैप में लौटी खरीदारी
पिछले कुछ सत्रों से दबाव में दिख रहे मिडकैप शेयरों में भी खरीदारी लौट आई है. कर्नाटक चुनाव के रुझानों से स्मॉलकैप शेयरों में भी मजबूती दिखाई दे रही है. बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.5 फीसदी बढ़ा है,जबकि निफ्टी के मिडकैप 100 इंडेक्स में भी 0.5 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है. बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.7 फीसदी मजबूत हुआ है.

बैंकिंग,मेटल और आईटी में जबरदस्त तेजी
बाजार के कारोबार के दौरान बैंकिंग, मेटल, एफएमसीजी, आईटी, रियल्टी, कैपिटल गुड्स, पावर और ऑयल एंड गैस शेयरों में जबरदस्त तेजी देखने को मिल रही है. बैंक निफ्टी 0.75 फीसदी की मजबूती के साथ 26,671 के स्तर पर पहुंच गया है. हालांकि, ऑटो और कंज्यूमर ड्युरेबल्स शेयरों में दबाव नजर आ रहा है.

इस शेयरों ने दिखाया दम
बाजार की तेजी में पावर ग्रिड, गेल, एचयूएल, टाटा स्टील, ओएनजीसी और एचडीएफसी बैंक 1-2.8 फीसदी तक उछले हैं. हालांकि, दिग्गज शेयरों में टाटा मोटर्स, अदानी पोर्ट्स, भारती इंफ्राटेल, एचपीसीएल, ग्रासिम, आईसीआईसीआई बैंक, डॉ रेड्डीज और इंडसइंड बैंक 0.25-1.7 फीसदी तक गिरे हैं. वहीं, मिडकैप शेयरों में एम्फैसिस, जेएसडब्ल्यू एनर्जी, एनबीसीसी, ओबेरॉय रियल्टी और जेएसडब्ल्यू स्टील 3.6-1.25 फीसदी तक चढ़े हैं.