Army camp terror attack in Jammu, slogans of Pakistan Zindabad engaged in assembly
प्रदेश विशेष
जम्मू में आर्मी कैंप आतंकी हमला,विधानसभा में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे
जम्मू,10/फरवरी/2018(ITNN)>>> जम्मू के सुंजवां में आर्मी कैंप पर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने फिदायीन हमला किया है, सेना के जवानों ने अपनी शहादत दी है. कैंप में जवानों की फैमिली के लोगों की जान पर खतरा मंडरा है और इसी दौरान जम्मू-कश्मीर विधानसभा में नेशनल कॉन्फ्रेंस के विधायक अकबर लोन पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे. पार्टी ने फौरन उनके बयान की निंदा करते हुए इससे किनारा कर लिया है. जम्मू-कश्मीर विधानसभा में सेना के कैंप में हमले का गुस्सा दिखा. बीजेपी विधायकों ने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए. 

इस पर कश्मीर के सोनावारी से विधायक अकबर लोन ने विरोध करते हुए पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए. विधानसभा में पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगने पर जमकर हंगामा हुआ. इधर अपने विधायक की इस हरकत पर फौरन नेशनल कॉन्फ्रेंस ने किनारा कर लिया है. नेशनल कॉन्फ्रेंस ने प्रवक्ता जुनैद अजीम मट्टू ने कहा कि इस बात की जानकारी पार्टी अध्यक्ष फारुख अब्दुल्ला को दी. उन्होंने और पूरी पार्टी ने अकबर लोन के इस हरकत की  निंदा की है. उनकी पार्टी ने इसे गैर जिम्मेदाराना हरकत करार दिया है. फारुख अब्दुल्ला ने कहा कि अकबर लोन को यह नहीं भूलना चाहिए कि वे उस पार्टी से जुड़े हैं.

जिसने टू नेशन थ्योरी को नकार दिया था. पार्टी ने विधायक के इस बयान की निंदा करते हुए खुद को इससे अलग कर लिया है. फारुख अब्दुल्ला ने पाकिस्तान पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि ऐसा कोई दिन नहीं बीतता जब ऐसी घटना न हो. उन्होंने कहा कि ये आतंकवादी पाकिस्तान से आ रहे हैं. अगर पाकिस्तान भारत के साथ अच्छे रिश्ते चाहता है तो उसे सीमा पास से आतंकवाद पर लगाम लगानी होगी. अगर पाकिस्तान ऐसा नहीं करता है तो उसे इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे. सीमापार से आतंकवाद नहीं रुका तो भारत युद्ध छेड़ देगा. विधानसभा स्पीकर कविंद्र गुप्ता ने इस हमले में रोहिंग्याओं का भी हाथ होने की आशंका जताई है. 

विधानसभा स्पीकर कवींद्र गुप्ता ने अपने बयान में कहा है कि जिस जगह ये हमला हुआ है, वहां आसपास रोहिंग्या शरणार्थी भी रहते हैं. उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति में इस बात की भी आशंका है कि हमले में रोहिंग्या शरणार्थियों का उपयोग किया गया हो. अपने बयान पर कविंद्र गुप्ता ने कहा कि वे खुद उसी विधानसभा क्षेत्र में रहते हैं. उन्होंने कहा रोहिंग्या और बांग्लादेशी शरणार्थियों के लगातार बढ़ने पर शिकायतें आती रही हैं. दरअसल,म्यांमार से विस्थापित रोहिंग्या बड़ी संख्या में जम्मू में शरण लिए हुए हैं. अक्सर इन शरणार्थियों के आतंकी गतिविधियों में शामिल होने की आवाज उठती रही हैं. 

हालांकि,आधिकारिक तौर पर कभी किसी रोहिंग्या शरणार्थी के आतंकी घटनाओं में शामिल होने की जानकारी नहीं मिली है. गौरतलब है कि आज तड़के पांच बजे के करीब जम्मू के सुंजवां में जैश के आतंकियों ने फिदायीन अटैक किया है. जानकारी के मुताबिक 3-4 आतंकी कैंप के पीछे के इलाके से जाली काटकर अंदर घुसे. इसके बाद उन्होंने गोलीबारी शुरू की. इस हमले में एक जेसीओ शहीद हो गए हैं,जबकि कुछ जवान भी जख्मी हुए हैं. ऑपरेशन को अंजाम तक पहुंचाने के लिए उधमपुर से पैरा कमांडो को एयरलिफ्ट किया गया है. आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन को सुंजवां में चल रहे ऑपरेशन और हालिया स्थिति के बारे में जानकारी दी है.