Four soldiers of Jammu and Kashmir, who were martyred in Guerre, will be given tributes today
प्रदेश विशेष
जम्मू-कश्मीर, ग़ुरेज में शहीद हुए सेना के चार जवानों को आज दी जाएगी श्रद्धांजलि
जम्मू-कश्मीर,8/अगस्त/2018/ITNN>>> जम्मू-कश्मीर के गु़रेज सेक्टर में मंगलवार को सेना और घुसपैठियों के बीच हुई मुठभेड़ में शहीद हुए मेजर सहित चार जवानों को आज श्रद्धांजलि दी जाएगी. सेना के ये जवान बांदीपोरा जिले के गुरेज सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश कर रहे आतंकियों से मुकाबला करते हुए शहीद हो गए. इस मुठभेड़ में चार आतंकियों को भी मार गिराया गया और चार आतंकी फरार हो गए.

सेना अधिकारी ने घटना की पुष्टि की है. उन्होंने जानकारी देते हुए कहा, ''उत्तर कश्मीर के गुरेज में घुसपैठ की कोशिश नाकाम करने के दौरान सेना के एक मेजर और तीन सैनिक शहीद हो गए.''

इनकी शहादत को सलाम

शहीद होने वाले जाबांजों में मेजर कौस्तुभ प्रकाश कुमार राणे शामिल हैं. मेजर कौस्तुभ महाराष्ट्र की थाणे तहसील के हिरल सागर, सीतल नगर के रहने वाले थे.

आतंकियों से लड़ते हुए GNR (DMT) विक्रमजीत सिंह भी देश के लिए कुर्बान हो गए. विक्रमजीत सिंह हरियाणा के अंबाला जिले के तेपला गांव के रहने वाले थे.

इस मुठभेड़ में राइफलमैन हमीर सिंह भी शहीद हो गए. हमीर उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के पोखरियाल गांव के रहने वाले थे.

घुसपैठियों से लोहा लेते हुए एक और बहादुर जवान राइफलमैन मनदीप सिंह रावत भी शहीद हो गए. मनदीप भी उत्तराखंड के कोटद्वार जिले के शिवपुर गांव के रहने वाले थे.

आपको बता दें कि खुफिया एजेंसियां स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर घुसपैठ की आशंका जता चुकी है. बॉर्डर पर सुरक्षाकर्मी अलर्ट हैं. ऐसी खुफिया सूचना है कि लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकियों ने 15 अगस्त को जम्मू-कश्मीर और नई दिल्ली में आतंकवादी हमले को अंजाम देने की योजना बनाई है.