प्रदेश विशेष
युवक की मौत पर हिंसक हुआ मराठा आरक्षण आंदोलन
औरंगाबाद,24/जुलाई/2018/ITNN>>> सरकारी नौकरियों और शिक्षा में आरक्षण की मांग को लेकर मराठों के आंदोलन ने सोमवार को उस समय त्रासद मोड़ ले लिया जब 27 वर्षीय एक प्रदर्शनकारी ने औरंगाबाद के समीप गोदावरी नदी में कूदकर अपनी जान दे दी। युवक की मौत के बाद लोग उग्र हो गए और उन्होंने महाराष्ट्र के कई इलाकों में गाड़ियों और बसों में तोड़फोड़ की। युवक की मौत के बाद आज (मंगलवार) को मराठा क्रांति मोर्चा ने महाराष्ट्र बंद का ऐलान किया है। 

कोल्हापुर, सातारा,सोलापुर,पुणे और मुंबई में हालात तनाव पूर्ण है। औरंगाबाद के डीएम उदय चौधरी ने मराठा क्रांति मोर्चा की अधिकांश मांगें मान ली हैं,साथ ही सरकार मृतक काकासाहेब शिंदे के परिवार को 10 लाख रुपए मुआवजा और उसके छोटे भाई को सरकारी नौकरी भी देगी। वहीं विपक्ष ने इस पूरी मामले में मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस के सिर ठीकरा फोड़ा है। वहीं प्रदर्शनकारियों ने मराठों के लिए तत्काल आरक्षण की घोषणा तथा मृतक शिंदे के परिवार के लिए 50 लाख रुपए के मुआवजे की मांग की है।