Kerala has the best governance, this state is the most backward
प्रदेश विशेष
केरल में है सबसे बेहतर शासन व्यवस्था,यह राज्य हैं सबसे पीछे
नई दिल्ली,23/जुलाई/2018/ITNN>>> देश में सबसे बेहतर तरीके से शासन-व्यवस्था के मामले में केरल ने पहले पायदान पर जगह बनाई है। थिंक टैंक पब्लिक अफेयर्स सेंटर (पीएसी) द्वारा जारी रिपोर्ट में तमिलनाडु दूसरे,तेलंगाना तीसरे,कर्नाटक चौथे और गुजरात पांचवें स्थान पर है। वर्ष 2018 के पब्लिक अफेयर्स इंडेक्स (पीएआई) में केरल लगातार तीसरे साल शीर्ष पर है। 

वहीं इंडेक्स में मध्यप्रदेश सबसे निचले पायदान पर है। रिपोर्ट के मुताबिक बच्चों के लिए बेहतर जीवनयापन परिस्थितियों की लिस्ट में केरल सबसे आगे है। वहीं दूसरे और तीसरे स्थान पर हिमाचल प्रदेश और मिजोरम हैं। इस इंडेक्स में भारत के राज्य कैसा प्रदर्शन कर रहे हैं इस बात का आकलन किया जाता है। पीएसी के चेयरमैन के.कस्तूरीरंगन का कहना है कि देश में जनसंख्या लगातार बढ़ती जा रही है। 

इसकी चुनौतियों का समाधान जल्द किया जाना जरूरी है। इंडेक्स को तैयार करने के लिए कुछ मानक होते हैं। जैसे- राज्यों के इंफ्रास्ट्रक्चर,मानव विकास को समर्थन,सामाजिक सुरक्षा,महिलाओं और बच्चों की स्थिति और कानून-व्यवस्था। इन सभी का आकलन किया जाता है। इंडेक्स में सरकारी डाटा को कुल 30 फोकस विषय और 100 इंडीकेटर के आधार पर मापा जाता है। 

यह इंडेक्स पीएसी 2016 में जारी किया गया था। रिपोर्ट में छोटे राज्यों में बेहतर शासन के मामले में हिमाचल प्रदेश ने बाजी मारी है। दूसरे स्थान पर गोवा,तीसरे पर मिजोरम,चौथे पर सिक्किम और पांचवें पर त्रिपुरा का नाम है। वहीं रिपोर्ट में छोटे राज्यों के मामले में नागालैंड,मिजोरम और मेघालय निचले स्थान पर रहे हैं।