प्रदेश विशेष
राहुल गांधी ने RSS पर कसा तंज,कहा- महात्मा गांधी की बात करने वाले गोडसे को मानते हैं आदर्श
अमेठी,05/जुलाई/2018/ITNN>>> कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के नेता महात्मा गांधी की बात करते हैं लेकिन नाथूराम गोडसे को आदर्श मानते हैं. कांग्रेस के एक नेता ने पार्टी की सोशल मीडिया टीम के साथ बैठक में राहुल की तरफ से संघ पर हमला करते हुए कही बात के हवाले से कहा,आरएसएस का देश की आजादी की लड़ाई में कोई योगदान नहीं रहा है. 

आरएसएस इतिहास को तोड़ मरोड़कर पेश कर रहा है. राहुल ने बैठक में कहा कि ये (आरएसएस) महात्मा गांधी का नारा लगाते हैं और नाथूराम गोडसे को अपना आदर्श मानते हैं. कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि आरएसएस के लोग झूठे प्रचार के आदी बन चुके हैं. आजादी से लेकर देश के हर क्षेत्र में इतिहास है कि गांधी,नेहरू,इंदिरा और राजीव का देश के प्रति योगदान छिपा नहीं है. कांग्रेस अध्यक्ष ने यहां पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए. 

कहा कि मोदी देश में बुलेट ट्रेन नहीं बल्कि मैजिक ट्रेन चला रहे हैं जो कभी नहीं चलेगी. उन्होंने कहा,जीएसटी ने देश को बरबादी के कगार पर खड़ा कर दिया है. मोदी ने देश के गरीबों का पैसा देश के पांच उद्योगपतियों को बांट दिया है. आम आदमी महंगाई से परेशान है. राहुल ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री चीन के राष्ट्रपति के साथ झूला झूल रहे हैं और वो हमारी जमीन हथियाने की योजना में लगा है. कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा,डोकलाम के हालात ठीक नहीं हैं. पाकिस्तान की हरकतें आप सब देख रहे हैं. नरेंद्र मोदी के हाथों में देश सुरक्षित नहीं है. 

राहुल ने कांग्रेस के ग्राम सभा अध्यक्षों की बैठक के दौरान शक्ति पोर्टल का शुभारम्भ किया. उन्होंने कहा कि इस एप से कांग्रेस का हर कार्यकर्ता जुडेगा. इसमें आधारकार्ड और वोटर आईडी जोडते ही आप संगठन की मुख्य धारा से जुड जायेंगे. इसके जरिये पार्टी कार्यकर्ताओं की समस्याओं का भी समाधान होगा. उन्होंने कहा कि संगठन को गांव स्तर पर मजबूत करने की जरूरत है. हम बहुत कुछ करते हैं पर अपनी बात मजबूती से रखने मे कंजूसी करते हैं जिसका लाभ दूसरे लोग उठा लेते हैं. राहुल ने कहा कि इस बात की आश्यकता है.

कि हम समाज के हर व्यक्ति के सहयोगी बनें और कांग्रेस की नीतियों को मजबूती से उनके समक्ष रखें. पार्टी सूत्रों का कहना है कि इस बैठक के जरिये राहुल ने 2019 के लोकसभा चुनाव के लिहाज से कांग्रेस संगठन की जमीनी हकीकत जानने की पूरी कोशिश की. राहुल किसान सत्तार के गांव खैराना गये. सत्तार के परिजनों के साथ कुछ समय बिताया. सत्तार की गत दिनों जायस मंडी में मौत हो गयी थी. कांग्रेस अध्यक्ष ने बरौलिया सहित कई गांवों का दौरा किया.