प्रदेश विशेष
संकरी गलियों में जान बचाने के लिए दौड़ते रहा सपा कार्यकर्ता,सरेआम गोली-बमों से की हत्या
इलाहाबाद,13/जून/2018/ITNN>>> समाजवादी पार्टी के एक कार्यकर्ता को दिन दहाड़े फ़िल्मी अंदाज़ में गोली व बम से हमला कर मौत के घाट उतार दिया गया. हमलावरों से बचने के लिए सपा कार्यकर्ता सोनू यादव गलियों से भागते हुए एक मकान के किचन में जाकर छिप गया,लेकिन बेख़ौफ़ बदमाशों ने पीछा करते हुए उसे वहीं मौत के घाट उतार दिया. बदमाशों ने सपा कार्यकर्ता पर छह गोलियां दागीं. इसके अलावा देसी बमों से भी हमला किया. पुलिस के मुताबिक़ यह हत्या आपसी रंजिश में की गई है. 

हत्या का आरोप इलाके के एक हिस्ट्रीशीटर व उसके साथियों पर लगा है. पुलिस ने शक के आधार पर कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया है. हत्या के बाद परिवार वालों और पड़ोसियों ने कुछ देर हंगामा भी किया. फ़िल्मी अंदाज़ में अंजाम दी गई हत्या की इस सनसनीखेज वारदात से इलाके में काफी देर तक अफरा तफरी मची रही. अभी तक किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है. पुलिस अफसरों का दावा है कि हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए कई टीमें अलग अलग जगहों पर छापेमारी कर रही हैं.

यह सनसनीखेज वारदात शहर के धूमनगंज इलाके में शाम करीब साढ़े पांच बजे की है. यहां की मुंडेरा कालोनी में रहने वाला सपा कार्यकर्ता तकरीबन तीस साल का सोनू यादव घर के बाहर टहल रहा था,तभी कुछ अज्ञात हमलावरों ने उसे निशाना बनाते हुए गोली व देसी बमों से हमला कर दिया. सोनू यादव अपनी जान बचाने के लिए संकरी गलियों से भागता हुआ पड़ोस के एक मकान में घुसकर उसके किचन में छिप गया. हमलावर भी पीछा करते हुए मकान तक आ गए. उन्होंने किचन में छिपे सोनू यादव पर छह राउंड फायरिंग की और इसके बाद बम भी मारा.

मौके पर ही उसकी मौत होने के बाद हमलावर हवाई फायरिंग करते और देसी बम फोड़ते हुए भाग निकले. परिवार वालों के मुताबिक़ इलाके के एक हिस्ट्रीशीटर, जिस पर पुलिस ने पचास हजार रूपये का ईनाम घोषित है,उसे शक था कि सोनू ज्यादा मुखबिरी कर उसे गिरफ्तार कराना चाहता है. परिवार को हत्या का शक उसी पर है. बहरहाल इस सनसनीखेज वारदात से इलाके में कोहराम मचा है. क़त्ल की इस वारदात ने इलाहाबाद की क़ानून व्यवस्था पर सवालिया निशान भी खड़े कर दिए हैं,क्योंकि पिछले कई महीने से यहां लगातार हत्याएं हो रही हैं.