प्रदेश विशेष
योगी ने नोएडा के बाद वाराणसी में तोड़ा एक और मिथक,चंद्रग्रहण पर किया अन्नग्रहण
वाराणसी,01/फरवरी/2018(ITNN)>>> यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले वर्ष नोएडा जाकर एक मिथक तोड़ा था,और आज वाराणसी में चंद्रग्रहण के दौरान अन्नग्रहण कर सदियों से चले आ रहे मिथक को तोड़ने का काम किया। बुधवार को वाराणसी में संत रविदास जयंती पर चंद्रग्रहण के बीच मंदिर में माथा टेकने के बाद योगी ने देश के कोने-कोने से आए दलितों के साथ पंगत में बैठकर लंगर प्रसाद ग्रहण किया। काशी में योगी ने जिस मिथक को तोड़ा वह ग्रहण पर लगने वाले सूतक को लेकर है। 

देश में शाम 5.17 से रात 8.42 बजे तक लगे चंद्रग्रहण के सूतक के दौरान अन्नग्रहण नहीं किया जाता है। ग्रहण के दौरान सूतक काल में सदियों से चले आ रहे इस मिथक को सीएम ने तोड़ा। संत रविदास जन्मस्थली सत्संग मंच से सीएम योगी ने कहा कि मैं पीएम मोदी की प्रेरणा से यहां आया हूं। प्रधानमंत्री की इच्छा थी कि इस जयंती कार्यक्रम में उपस्थित हों और मैं उपस्थित हो गया। उन्होंने कहा कि संत रविदास जन्मस्थली के विकास में यूपी सरकार सहयोग करेगी। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि जाति व छुआछूत के नाम पर भेदभाव नहीं होना चाहिए।