प्रमुख समाचार
ब्रिटेन की कोर्ट का विजय माल्या को बड़ा झटका,जब्त होगी संपत्ति
नई दिल्ली,06/जुलाई/2018/ITNN>>> भगौड़े शराब कारोबारी विजय माल्या को ब्रिटेन की कोर्ट से बड़ा झटका लगा है। ब्रिटेन की कोर्ट ने ब्रिटेन में विजय माल्या की संपत्ति जब्त करने के आदेश दिए है। इस आदेश से बैंकों को विजय माल्या से कर्ज वसूली में मदद मिलेगी।

माल्या का घर भी होगा जब्त
कोर्ट ने विजय माल्या की जायदाद की छानबीन के लिए अधिकारी की नियुक्ति भी कर दी है। माल्या जहां रहते हैं उस विला के जब्ती का आदेश भी कोर्ट ने दिया है। माल्या पर बैंकों के साथ कर्ज में 9,000 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी और मनी लांड्रिंग का आरोप है। इस आदेश के तहत ब्रिटेन की कोर्ट के प्रवर्तन अधिकारी को माल्या की लंदन के पास हर्टफोर्डशायर में संपत्तियों में प्रवेश की अनुमति दी गई है। इसके तहत अधिकारी और उसके एजेंट को ब्रिटेन के वेलविन इलाके में तेविन नामक स्थान पर लेडीवॉक और ब्रैंबल लॉज में उनके ठिकानों में प्रवेश की अनुमति होगी। माल्या इस समय वहीं पर रह रहे हैं।

कर सकते हैं बल प्रयोग
आदेश में कहा गया,हाईकोर्ट के एन्फोर्समेंट ऑफिसर जरूरत पड़ने पर प्रॉपर्टी में घुसने के लिए बल प्रयोग कर सकते हैं। मामले की जानकारी रखने वाले लीगल एक्सपर्ट्स के मुताबिक,हाईकोर्ट की क्वीन बेंच डिवीजन के आदेश से प्रवेश की अनुमति मिल गई है,जबकि बैंक अपने सामने मौजूद बल प्रयोग के विकल्पों पर विचार कर रहे हैं।
 
संपत्तियों की पहचान लेकिन कुर्क नहीं 
बेंगलुरू पुलिस ने दिल्ली की एक अदालत में वीरवार को कहा कि उसने भगोड़े कारोबारी विजय माल्या की 159 संपत्तियों की पहचान की है। किंतु फेरा उल्लंघन से संबंधित प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा उसके खिलाफ दर्ज धन शोधन मामले में पुलिस इनमें से कोई संपत्ति कुर्क नहीं कर पाई है। बेंगलुरू पुलिस ने ईडी के जरिए मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट दीपक सहरावत को बताया कि वह माल्या की संपत्ति कुर्क नहीं कर पायी है। क्योंकि इनमें से कुछ को मुम्बई क्षेत्र के ईडी ने कुर्क कर लिया है और शेष संपत्ति परिसमापन की प्रक्रिया का हिस्सा है। 

पीएनबी करेगा पुनर्मूल्यांकन 
पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने कहा है कि विजय माल्या की संपत्ति को लेकर ब्रिटेन की एक अदालत के फैसले के मद्देनजर वह इनका पुनर्मूल्यांकन करेगा। बैंक के प्रबंध निदेशक सुनील मेहता ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि हमने माल्या की परिसंपत्तियों का मूल्यांकन किया था,अब नया मूल्यांकन करेंगे और हमारे कर्ज की वसूली के लिए इनको बेचेंगे।