Crank King s move failed, America South Korea gave a big blow
प्रमुख समाचार
सनकी किंग की चाल नाकामयाब,अमरीका-दक्षिण कोरिया ने दिया बड़ा झटका
वॉशिंगटन,11/फरवरी/2018(ITNN)>>> पूरी दुनिया  में चर्चा जोरों पर थी कि विंटर ओलिम्पिक खेलों दौरान उत्तर और दक्षिण कोरिया के बीच रिश्ते सुधरने के आसार हैं लेकिन उत्तर कोरिया के सनकी किंग किम जोंग उन की चाल सामने आने के बाद अब इस संभावना पर भी पानी फिरता नजर आ रहा है। अमरीका और दक्षिण कोरिया ने उत्तर कोरिया को बड़ा झटका देते हुए सनकी किंग के परमाणु कार्यक्रम के खिलाफ और भी मजबूती के साथ हाथ मिला लिया है। 

यह जानकारी अमरीकी उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने दी हैं। विश्लेषकों का कहना है कि उत्तर कोरिया ओलिम्पिक कूटनीतिक अभियान के जरिए अपने ऊपर लगे अंतरराष्‍ट्रीय प्रतिबंधों को हटवाना चाहता है। साथ ही दक्षिण कोरिया और अमरीका के बीच गठबंधन को कमजोर करना चाहता है। दक्षिण कोरिया में शीतकालीन ओलिम्पिक खेलों के उद्घाटन समारोह के बाद पेंस ने कहा कि वह और राष्ट्रपति मून उत्तर कोरिया के प्रयासों के खिलाफ आगे भी साथ खड़े रहेंगे। 
  
पेंस ने कहा कि जब तक उत्तर कोरिया अपने परमाणु और बैलिस्टिक मिसाइल कार्यक्रमों को रोक नहीं देता,तब तक उसे आर्थिक और कूटनीतिक रूप से अलग करने की आवश्यकता पर अमरीका,कोरिया गणराज्य और जापान को विचार करने की जरूरत नही है।अमरीका ने इसे उत्‍तर कोरिया पर अधिकतम दबाव बनाने का अभियान बताया है। उत्तर कोरिया के अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइलों के पहले सफल परीक्षण के बाद से पूरा विश्‍व चिंता में है। 

यह मिसाइल अमरीका के मुख्य भू-भाग तक निशाना साधने में सक्षम है। दक्षिण कोरिया ने अमरीका को धमकी दी है कि हमले की स्थिति में उसको पूरी तरह से तबाह कर देगा। बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग कई बार एक दूसरे के ऊपर अपमानजनक टिप्पणी कर चुके हैं।अब तक अंतरराष्‍ट्रीय ओलिम्पिक खेलों के जरिए दोनों कोरियाई देशों के बीच सुलह होती देखी जा रही थी। 

दक्षिण कोरियाई राष्‍ट्रपति मून जे-इन ने शनिवार को शीर्ष उत्‍तर कोरियाई अधिकारियों के साथ बैठक की थी। बैठक में किम जोंग की बहन भी शामिल थीं। यह एेतिहासिक बैठक राष्‍ट्रपति भवन चेओंग वा दे में हुई। इसके बाद मून की मेजबानी में लंच का भी आयोजन किया गया।दूसरी तरफ पेंस ने उत्तर कोरिया के अधिकारियों से बात तक नहीं की। जबकि उद्घाटन समारोह में वह और किम जोंग की बहन एक साथ बैठे थे। पूरे समारोह के दौरान पेंस ने किम योंग नाम से दूरी बनाई रखी।