प्रमुख समाचार
चुनावी रैलियों में भारत के खिलाफ जहर उगल रहा हाफिज सईद
इस्लामाबाद,07/जुलाई/2018/ITNN>>> मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद पाकिस्तान चुनाव के लिए रैलिया कर रहा है पर फिर भी वह भारत के खिलाफ जहर उगलने से बाज नहीं अा रहा है। सईद को वोट हासिल करने की इतनी भूख है कि उसने अपनी रैली में भारत पर परमाणु बम हमले की गीदड़भभकी तक दे डाली। उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी निशाने पर लिया। हाफिज सईद ने पीएम को धमकी देते हुए कहा कि मोदी तेरे लिए खतरा ना हो तो फिर बात ही क्या है।

शुक्रवार को ये आतंकी फैसलाबाद में चुनावी रैली कर रहा था। इस दौरान सईद ने कहा कि पाकिस्तान को तोड़ने की साजिश की जा रही है और इस काम के लिए भारत किसी शेख मुजीबुर्रहमान के इंतजार में है। अपनी रैली में बलूचिस्तान के बारे में आतंकी हाफिज सईद ने कहा कि अमेरिका से लेकर भारत तक सभी गलत खबरें फैला कर बलूचिस्तान के लोगों को भड़का रहे हैं और बलूचिस्तान को बांग्लादेश की तर्ज पर पाकिस्तान से तोड़ने की साजिश रची जा रही है।

हाफिज सईद अब जब पूरी दुनिया के सामने बेनकाब हो गया है और हर तरफ से उस पर दबाव बन रहा है तो उसने चुनाव में अपने संगठन की पार्टी उतार दी है,हालांकि,उसके संगठन जमात-उद दावा की पार्टी मिल्ली मुस्लिम लीग को चुनाव आयोग ने पंजीकृत नहीं किया है,जिसके बाद उसने अल्लाह-हू अकबर नाम की पार्टी से अपने उम्मीदवार उतारे हैं। अपने उम्मीदवारों के लिए ही आतंकी हाफिज सईद लगातार रैलियां कर रहा है।

अपनी रैली में पाकिस्तान के परमाणु बम और मिसाइलों को लेकर भी कुख्यात आतंकी हाफिज सईद ने जमकर झूठ बोला। उसने कहा कि पाकिस्तान के पास ऐसी तकनीकि है जो भारत के साथ-साथ अमरीका और रूस तक पाकिस्तान के सामने घुटने टेक दें। उसने कहा कि कश्मीर भारत के हाथ से निकल रहा है।  बता दें कि पाकिस्तान में 25 जुलाई को नेशनल और प्रोवेंशियल असेंबली के चुनाव हो रहे हैं,जिसमें में हाफिज सईद समर्थित अल्लाह-हू अकबर पार्टी के 200 से ज्यादा उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें हाफिज सईद बेटा तल्हा और दामाद भी चुनाव लड़ रहा है।

25 जुलाई को पाकिस्तान में होंगे चुनाव
गौरतलब है कि पाकिस्तान में 25 जुलाई को चुनाव होने हैं। इस चुनाव में हाफिज सईज ने मिल्ली मुस्लिम लीग (MML) के चुनाव आयोग में पंजीकृत नहीं होने के कारण एक अन्य पार्टी अल्लाह-ओ-अकबर तहरीक (AAT) से अपने उम्मीदवार उतारे हैं। AAT से MML के 265 उम्मीदवार संसदीय और प्रांतीय चुनाव लड़ रहे हैं। इन प्रत्याशियों में 13 महिलाएं हैं। हाफिज सईद का बेटा और दामाद भी चुनावी मैदान पर हैं।वहीं आतंकी गतिविधियों के चलते जमात-उद-दावा प्रमुख सईद पर अमेरिका ने एक करोड़ डॉलर यानी करीब 68 करोड़ रुपए का इनाम घोषित कर रखा है। जमात-उद-दावा को 2014 में आतंकी संगठन घोषित किया गया था।