प्रमुख समाचार
सरकार ने दिए पीएनबी और इलाहाबाद बैंक के 3 बड़े अधिकारियों को हटाने के निर्देश
नई दिल्ली,14/मई/2018 (ITNN) >>> करीब 13,000 करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक घोटाले में सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है. वित्त मंत्रालय के वित्तीय सेवा विभाग में सचिव राजीव कुमार ने बताया कि सरकार ने पीएनबी और इलाहाबाद बैंक के 3 बोर्ड अधिकारियों को हटाने के निर्देश दिए हैं. इन अधिकारियों में 2 पीएनबी के कार्यकारी निदेशक और एक इलाहाबाद बैंक के प्रबंध निदेशक हैं. 

राजीव कुमार ने मीडिया को बताया कि बैंकों को इन अधिकारियों को कार्यमुक्त करने के लिए नोटिस जारी कर दिया गया है. इस संबंध में पीएनबी की बोर्ड बैठक भी चल रही है. उन्होंने बताया कि पीएनबी ने इस बारे में अधिकारियों को हटाने का फैसला भी कर लिया है और इलाहाबाद बैंक बोर्ड ने जल्द ही अपनी बैठक बुलाई है. उन्होंने बताया कि सरकार के साफ निर्देश हैं कि किसी भी सरकारी कामकाज में लापरवाही बरतने वालों को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाएगा.

सीबीआई ने दायर की चार्जशीट
बता दें कि सीबीआई ने सोमवार को 13,000 करोड़ के पीएनबी घोटाले की चार्जशीट फाइल कर दी. चार्जशीट में पीएनबी की पूर्व प्रबंध निदेशक और सीईओ उषा अनंतसुब्रमण्यन का नाम भी शामिल है. सीबीआई की ओर दाखिल यह पहली चार्जशीट है. उषा अनंतसुब्रमण्यन इस वक्त इलाहाबाद बैंक की सीईओ हैं. इससे पहले वह पीएनबी में अपनी अहम भूमिका निभा चुकी हैं. चार्जशीट में पीएनबी के दो मौजूदा एक्जिक्यूटिव डायरेक्टर्स केवी ब्रह्माजी राव और संजीव शरण का भी नाम शामिल है. चार्जशीट को पूरी तरह नीरव मोदी के खिलाफ ही तैयार किया गया है. मेहुल चोकसी के खिलाफ अलग से एक और चार्जशीट दाखिल की जाएगी. 

जानकारी के मुताबिक,सीबीआई ने अपनी चार्जशीट में महाप्रबंधक (इंटरनेशनल ऑपरेशन) नेहल अहद को भी आरोपी बनाया गया है. इस घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी के भाई निशाल मोदी और उसकी कंपनी के अधिकारी सुभाष परब का भी जिक्र चार्जशीट में किया गया है. सीबीआई सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक,चार्जशीट में नीरव मोदी और उसके भाई नीशल मोदी सहित 22 लोगों तथा 3 कंपनियों को आरोपी बनाया है. इनमें 12 बैंक अधिकारियों को आरोपी बनाया गया है,जिनमें ब्रांडी हाउस ब्रांच के उप प्रबंधक गोकुलनाथ शेट्टी,सिंगल विंडो ऑपरेटर मनोज खरात, मुख्य प्रबंधक बच्चू तिवारी,प्रबंधक यशवंत जोशी और एक अन्य अधिकारी प्रफुल सावंत का नाम शामिल है.