Amit Shah said that in 2019 elections want to fight with Shiv Sena
प्रमुख समाचार
अमित शाह ने कहा- 2019 में शिवसेना के साथ लड़ना चाहते हैं चुनाव
नई दिल्ली,26/मई/2018/ITNN>>> मोदी सरकार के केंद्र में 4 साल पूरे हो चुके हैं और इस मौके पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए मोदी सरकार का रिपोर्ट कार्ड पेश किया। इस दौरान उन्होंने मोदी सरकार द्वारा चलाई गई योजनाओं के अलावा विकास के लिए किए गए कामों की भी जानकारी दी।

शाह ने कहा कि भाजपा ने सबसे मेहनती और सर्वाधिक पंसद किए जाने वाले पीएम दिए हैं। पीएम जो 15-18 घंटे काम करते हैं, हमे गर्व है कि वो हमारी पार्टी के नेता है। भाजपा को गौरव है कि मोदी जी के नेतृत्व में हमने भ्रष्टाचार विहीन, कड़े फैसले करने वाली और गरीब-गांव-किसानों के हितों को समझने वाली सरकार दी है।

शिवसेना के साथ लड़ना चाहते हैं चुनाव
महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना के बीच तनाव के बाद भले ही शिवसेना ने 2019 का लोकसभा चुनाव अकेले लड़ने की घोषणा की हो लेकिन भाजपा ऐसा नहीं चाहती। जब भाजपा अध्यक्ष से पूछा गया कि शिवसेना उनके साथ चुनाव नहीं लड़ना चाहती लेकिन फिर भी केंद्र और राज्य में गठबंधन किए हुए है। इस पर अमित शाह ने कहा कि यह सवाल आप उनसे जाकर पूछें। शाह ने कहा कि हम 2019 का चुनाव शिवसेना के साथ लड़ना चाहते हैं।

पेट्रोल और डीजल को लेकर ढूंढ रहे लंबे समय का समाधान
देश में पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर शाह ने कहा कि आज जो पेट्रोल और डीजल की कीमतें हैं वो यूपीए काल में लगातार तीन साल तक इतनी ही थीं। लेकिन वो लोग हमारी सरकार में सिर्फ तीन दिन में ही इससे घबरा गए। सरकार कीमतों पर विचार कर रही है और ऐसा समाधान ढूंढ लगी है जो लॉन्ग टर्म हो।

परिवारवाद,तुष्टिकरण की राजनीति को बदला
शाह ने आगे कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने परिवारवाद,तुष्टिकरण और जातिवाद की राजनीति को बदलकर पॉलिटिक्स ऑफ़ परफॉरमेंस को आगे बढ़ाने का काम किया है। साथ ही मोदी सरकार ने सबका साथ - सबका विकास के सूत्र को चरितार्थ करने का काम किया है। हमने स्व-रोजगारी को बढ़ावा देकर करोड़ों लोगों को रोजगारी देने का काम किया है। हमने एक भी घोटाले के बिना लाखों-करोड़ के इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स को पूरा करने का काम किया है। शाह ने आगे कहा कि,कृषि बजट को दोगुना करने वाली ये पहली सरकार है। भारत आज सबसे तेज गति से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बन कर विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन चुकी है।

विपक्ष पर तीखा हमला
अमित शाह ने इस दौरान विपक्ष पर भी तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा कि विपक्ष का एजेंडा है कि मोदी और भाजपा को सत्ता से हटाया जाए। जबकि भाजपा का एजेंडा है कि देश से गरीबी, भ्रष्टाचार और अव्यवस्था को हटाया जाए। 2019 में सभी विपक्षी दलों के गठबंधन पर शाह ने कहा कि इससे पहले हुए चुनावों में भी बाकी दल खिलाफ ही चुनाव लड़े हैं लेकिन जीत भाजपा को मिली है।

तूतीकोरिन हिंसा की कड़ी निंदा
एक सवाल के जवाब में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि तूतीकोरिन में जो कुछ हुआ उस पर केंद्र ने कड़ी आपत्ति जताई है और राज्य सरकार को कड़े निर्देश दिए हैं कि ऐसी घटनाएं नहीं होनी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय ने इस मामले पर रिपोर्ट भी मांगी है।