प्रमुख समाचार
दिग्‍गजों का दांव,मोदी की रैलियों ने दिखाया असर
नई दिल्‍ली,15/मई/2018 (ITNN) >>> कर्नाटक विधानसभा चुनाव में जीत के लिए सभी पार्टियों ने पूरी ताकत झोंक दी है. इन चुनावों में बीजेपी और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्‍कर कही जा रही है. चाहे बीजेपी हो,कांग्रेस हो या अन्‍य दल,सभी ने चुनाव प्रचार में कोई कसर नहीं छोड़ी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह तक कर्नाटक में डेरा जमाए रहे. 

वहीं उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को भी बीजेपी ने कर्नाटक में चुनाव प्रचार के लिए भेजा था. बीजेपी के सभी बड़े चेहरों ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव में जीत के लिए अपनी ताकत झोंक दी. बड़ी संख्‍या में रैलियां कीं. दूसरी ओर कांग्रेस ने भी भी जीत सुनिश्चित करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी. कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने भी ताबड़तोड़ रैलियां कीं. उनकी इन कोशिशों का परिणाम 15 मई यानी मंगलवार को आएगा.

पीएम मोदी ने की 21 रैलियां
बीजेपी को कर्नाटक विधानसभा चुनाव जिताने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कोई कसर नहीं छोड़ी. पीएम मोदी एक मई को कर्नाटक पहुंचे. प्रदेश में नरेंद्र मोदी की 15 रैलियां प्रस्‍तावित थीं. लेकिन मोदी ने अपनी प्रस्‍तावित रैलियों में छह अधिक रैलियां कीं. मोदी ने जहां-जहां रैलियां कीं, उनका प्रभाव 169 सीटों पर है. मंगलवार को आ रहे चुनाव परिणामों के रुझानों के अनुसार इन 169 सीटों में से करीब 70 सीटों पर बीजेपी की जीत की जीत सुनिश्चित मानी जा रही है.

राहुल गांधी ने भी झोंकी पूरी ताकत
कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने भी कर्नाटक विधानसभा चुनावों में पार्टी को जिताने के लिए पूरी ताकत झोंकी. राहुल गांधी ने कर्नाटक में तूफानी रैलियां की. उन्‍होंने कुल 47 रैलियां कीं. इनमें से 23 मेगा रैलियां थीं. इसके अलावा राहुल ने करीब 20 दिन में 40 से अधिक रोड शो किए. राहुल गांधी ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत सुनिश्चित करने के लिए लगभग 162 विधानसभा क्षेत्रों का दौरा भी किया. उनके दौरे का प्रभाव 109 सीटों पर है. मंगलवार को आ रहे चुनाव रुझानों में इनमें से 52 सीटों पर कांग्रेस जीत तय कर रही है. राहुल ने कर्नाटक दौरा नौ चरणों में किया था.

शाह ने की 51 रैलियां
कर्नाटक विधानसभा चुनावों में बीजेपी की जीत सुनिश्चित करने के लिए पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह ने पहले से ही कर्नाटक में डेरा डाल लिया था. उनकी बनाई गई रणनीति और चुनाव प्रचार की वजह से ही बीजेपी कुछ अन्‍य राज्‍यों में चुनावी परचम लहरा चुकी है. इस बार भी शाह ने मैदान में पूरी ताकत झोंक दी. उन्‍होंने कर्नाटक में अपने पूरे दौरे में 51 रैलियां की. कर्नाटक की 174 विधानसभा सीटों पर इन रैलियों का प्रभाव माना जा रहा है. मंगलवार को आ रहे चुनावों के रुझानों में इनमें से 60 सीटों पर बीजेपी की जीत तय मानी जा रही है.

सीएम योगी ने की थी 24 रैलियां
त्रिपुरा के बाद बीजेपी ने उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ को कर्नाटक चुनाव में प्रचार के लिए एक बार फिर जिम्मेदारी दी. बीजेपी ने कर्नाटक चुनाव प्रचार के लिए 35 रैलियां तय कीं, लेकिन यूपी में बरपे मौसमी कहर के बाद उन्हें कर्नाटक दौरे से वापस लौटना पड़ा. 35 रैलियों में से सीएम योगी ने 133 सीटों के प्रभाव वाले क्षेत्रों में 24 रैलियां की. मंगलवार को आ रहे चुनाव रुझानों में इनमें से 50 में बीजेपी की जीत तय मानी जा रही है.