प्रमुख समाचार
रेणुका चौधरी पर पीएम की टिप्पणी को लेकर कांग्रेस का हंगामा,माफी की उठी मांग
नई दिल्ली,08/फरवरी/2018(ITNN)>>> प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुधवार को राज्यसभा में कांग्रेस की नेता रेणुका चौधरी के जोर से हंसने पर कसे गए तंज ने राजनीतिक रूप ले लिया है। पीएम की टिप्पणी को लेकर जहां कांग्रेस ने गुरुवार को राज्यसभा में हंगामा करते हुए माफी की मांग की है वहीं रेणुका चौधरी ने कहा है कि वो इसके खिलाफ विशेषाधिकार नोटिस देंगी। वहीं दूसरी तरफ केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजु ने अपने फेसबुक पेज पर पीएम मोदी के भाषण के साथ रामायण धारावाहिक के एक दृश्य का वीडियो शेयर किया है। 

जिसमें लक्ष्मण सुर्पनखा की नाक काटते देखे जा सकते हैं। दरअसल,पीएम ने कहा था कि रामायण धारावाहिक समाप्त होने के बाद पहली बार ऐसी हंसी सुनाई दी है। बता दें कि बुधवार को पीएम के संबोधन के दौरान किसी बात पर रेणुका चौधरी ने जोर-जोर से ठहाके लगाना शुरू कर दिए थे। तब पीएम ने कहा था कि रामायण धारावाहिक खत्म होने के बाद पहली बार ऐसी हंसी सुनी है। उनके इस तंज के बाद जहां रेणुका चौधरी की हंसी गायब हो गई वहीं रेणुका चौधरी ने इसे खुद का अपमान बताया है। 

पीएम की इस टिप्पणी के बाद केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजु ने अपने फेसबुक पेज पर एक वीडियो शेयर किया है। जिसमें रामायण का वो दृश्य नजर आता है जब रावण की बहन वन में भगवान राम के पास जाती है। इसे लेकर रेणुका चौधरी ने कहा है कि वो सदन में विशेषधिकार हनन प्रस्ताव लेकर आएंगी। दरअसल, राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का प्रधानमंत्री जवाब दे रहे थे। उसी दौरान किसी बात पर कांग्रेस की नेता रेणुका चौधरी जोर से हंसीं। 

सभापति एम वेंकैया नायडू ने रेणुका को ऐसा नहीं करने के लिए टोका और कहा कि प्रधानमंत्री के भाषण के दौरान इस तरह का व्यवहार नहीं किया जाना चाहिए। इस पर प्रधानमंत्री ने कहा,सभापतिजी,रेणुकाजी को कुछ मत कहिए,क्योंकि रामायण धारावाहिक समाप्त होने के बाद पहली बार ऐसी हंसी सुनाई दी है। प्रधानमंत्री की टिप्पणी से सत्ता पक्ष और विपक्ष के सदस्यों में हंसी की लहर दौड़ गई। रेणुका ने प्रधानमंत्री की टिप्पणी पर आपत्ति की,लेकिन उनकी बातों को रिकार्ड में दर्ज नहीं किया गया।