प्रमुख समाचार
PAK से 7 गुना ज्यादा है भारत का रक्षा बजट
नई दिल्ली,02/फरवरी/2018(ITNN)>>> भारत को रक्षा क्षेत्र में बढ़ी हुई चुनौतियों के बावजूद सरकार ने इस साल के रक्षा बजट में केवल 7.4 प्रतिशत का ही मामूली इजाफा किया है,जिससे तीनों सेनाओं के बढ़े हुए वेतन भत्तों का खर्च ही भुगतान किया जा सकेगा। इस मामूली बढ़ौतरी से रक्षा हलकों में भारी निराशा पैदा हुई है। जहां तक भारत-पाक के रक्षा बजट का सवाल है तो इस लिहाज से भारत के सामने पाकिस्तान कहीं भी नहीं ठहरता है। 

भारत का रक्षा बजट पाक के बजट से 7 गुना ज्यादा है। वैश्विक स्तर की बात करें तो भारत रक्षा बजट के लिहाज से दुनिया का छठा बड़ा देश है,वहीं पाक का स्थान टॉप 10 में भी नहीं आता है। वर्ष 2018-19 के लिए रक्षा क्षेत्र के लिए सरकार ने 2 लाख 94 हजार करोड़ रुपए निर्धारित किए हैं जो पिछले साल के 2 लाख 74 हजार करोड़ रुपए से मामूली अधिक है। 

सकल घरेलू उत्पाद की तुलना में यह बजट पिछले साल के 1.56 प्रतिशत की तुलना में इस साल और घट गया है। इस तरह जी.डी.पी.के प्रतिशत के हिसाब से इस साल का रक्षा बजट न्यूनतम कहा जा सकता है। हालांकि रक्षा मंत्री अरुण जेतली ने लोकसभा में 2018-19 का बजट पेश करते हुए भरोसा दिलाया है कि रक्षा क्षेत्र को समुचित बजटीय सहायता सरकार की प्राथमिकता होगी लेकिन ताजा बजट में यह परिलक्षित नहीं होने से रक्षा हलकों में भारी निराशा है।