280 jawans martyred on border in Modi government's four years
प्रमुख समाचार
मोदी सरकार के चार साल में बॉर्डर पर शहीद हुए 280 जवान
नई दिल्ली,26/मई/2018/ITNN>>> केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नेतृत्व वाली एनडीए सरकार को 26 मई को यानी की आज के दिन चार साल पूरे हो गए हैं। आज से चार साल पहले पीएम मोदी की अगुवाई में एनडीए की सरकार सत्ता में आई थी। 

घुसपैठ की घटनाओं में नहीं आई कमी
सत्ता में आने से पहले मोदी सरकार बीजेपी अपने चुनावी रैलियों में बॉर्डर पर सेना की सुरक्षा और पाकिस्तान को करारा जवाब देने की बात करते थे, लेकिन मोदी सरकार के सत्ता में आने के बाद से सीजफायर का उलंघन और घुसपैठ की घटनाओं में कमी नहीं आई है। पिछले चार साल में देश के 280 जवान शहीद हो गए। वहीं चार साल में 646 आतंकी भ मारे गए। हालांकि सरकार ये दावा करती है कि सर्जिकल स्ट्राइक करके उन्होंने पाकिस्तान को जवाब दिया है लेकिन विपक्ष हमेशा इस बात को नकारता रहा। उनका कहना है कि यूपीए के कार्यकाल में भी सर्जिकल स्ट्राइक हो चुका है। मोदी सरकार सिर्फ अपनी उपलब्धियां गिनाने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक को हथियार बना रही है। 

कांग्रेस मनाएगी आज विश्वासघात दिवस
कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि मोदी सरकार ने अपने कार्यकाल में अब तक सिर्फ बातें ही की हैं और जनता से किए कोई भी वादा पूरा नहीं किया इसलिए पार्टी भाजपा सरकार के चार साल पूरा होने पर 26 मई को देशभर में विश्वासघात दिवस के रूप में मनाएगी। कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत तथा संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने यहां पार्टी मुख्यालय में आयोजित विशेष संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मोदी सरकार की चार साल की नाकामयाबियों का पर्दाफाश करने के लिए पार्टी के वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता 26 मई को सभी राज्य मुख्यालयों और जिलों में विश्वासघात दिवस मनाएंगे और प्रदर्शन करेंगे।