Modi s scandal involves fraud of 280 crores
प्रमुख समाचार
मोदी पर CBI का शिकंजा,280 करोड़ की धोखाधड़ी का लगा आरोप
नई दिल्ली,07/फरवरी/2018(ITNN)>>> केंद्रीय जांच ब्यूरो (सी.बी.आई.) ने अरबपति हीरा व्यापारी नीरव मोदी पर शिकंजा कसा है। पंजाब नेशनल बैंक से 280 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी के मामले में सी.बी.आई.ने नीरव मोदी,उसकी पत्नी,भाई और कारोबारी सहयोगी के खिलाफ एफ.आइ.आर.दर्ज कर ली है। इस मामले में पीएनबी के 13 अधिकारियों को भी आरोपी बनाया गया है।

280 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी
अधिकारियों ने बताया कि सी.बी.आई.ने पंजाब नेशनल बैंक की शिकायत पर यह कदम उठाया है। पंजाब नेशनल बैंक का आरोप है कि मोदी,उनके भाई निशाल, पत्नी एमी और मेहुल चिनूभाई चोकसी ने बैंक के अधिकारियों के साथ साजिश रचकर धोखाधड़ी को अंजाम दिया जिससे बैंक को नुकसान उठाना पड़ा। सभी आरोपी डायमंड्स आर यूएस,सोलर एक्सपोर्ट्स, स्टेलर डायमंड्स में साझेदार हैं।

इन धाराओं में केस 
अधिकारियों के अनुसार,सी.बी.आई.ने इंडियन पैनल कोड (आई.पी.सी.) की आपराधिक षड्यंत्र,धोखाधड़ी और भ्रष्‍टाचार रोकधान कानून की धाराओं के तहत चारों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। पीएनबी ने अपनी शिकायत में बताया था कि नीरव मोदी,उनके भाई निशाल मोदी और उनकी पत्नी ए ने अपनी कंपनी में 280.70 करोड़ रुपए का गलत घाटा दिखाकर बैंक के साथ धोखाधड़ी की थी।

फोर्ब्‍स लिस्‍ट में बनाई जगह  
2016 में आई भारत के सबसे धनी लोगों की फोर्ब्‍स लिस्ट में को जगह मिली थी। उस समय उनकी संपत्ति 1.74 बिलियन डॉलर (11.2  हजार करोड़ रुपए) बताई गई थी। क्रिस्टी ज्वैलरी ऑक्शन (2010) में नीरव मोदी की कंपनी फायर स्टार डायमंड का गोलकोंडा नेकलेस 16.29 करोड़ रुपए में बिका और नीरव मोदी ब्रांड को ग्लोबल पहचान मिली थी।