PM to present report card in Cuttack
प्रमुख समाचार
PM आज कटक में पेश करेंगे रिपोर्ट कार्ड
नई दिल्ली,26/मई/2018/ITNN>>> केंद्र की मोदी सरकार ने आज अपने चार साल पूरे कर लिए हैं। ऐसे मौके पर बीजेपी और मोदी कैबिनेट के मंत्री अपनी सरकार की उपलब्धियां जनता के सामने रख रहे हैं। इतना ही नहीं खुद पीएम मोदी भी आज अपनी सरकार की रिपोर्ड कार्ड जनता के सामने पेश करेंगे। मोदी अपनी सरकार की रिपोर्ट कार्ड ओडिशा के कटक में पेश करेंगे। पीएम मोदी के कार्यक्रम के मुताबिक शहर के बालीयात्रा मैदान में पूरी तैयारियां कर ली गई है। जहां से वह जनसभा को संबोधित करेंगे। 

अगली चुनावी रणनीति का ऐलान करेंगे मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कटक से और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह दिल्ली से अगली चुनावी रणनीति का ऐलान करेंगे। भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार ने अपने कार्यकाल के 4 साल पूरे कर लिए। इसके साथ ही भ्रष्टाचार मुक्त शासन एवं तेज विकास के आधार पर अगले आम चुनाव के प्रचार अभियान का श्रीगणेश किया। पार्टी ने विगत 48 महीने के कामकाज का खाका पेश किया। साथ ही साफ नीयत-सही विकास,मोदी सरकार फिर एक बार का नया नारा दिया। इसी नारे को लेकर भाजपा देशभर में अपनी उपलब्धियां गिनाते हुए वोट मांगने उतरेगी। 

साथ ही दावा किया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार देश के 22 करोड़ गरीबों के जीवनस्तर को ऊपर उठाने में कामयाब रही है। पार्टी अगले आम चुनाव में 80 नई लोकसभा सीटें जीतने का दावा कर रही है। हालांकि,उसका टारगेट 120 सीट का है। उसके निशाने पर वैसे तो सभी राज्य हैं,लेकिन पश्चिम बंगाल और उड़ीसा पर खास फोकस रहेगा। पीएम मोदी ने अपनी सरकार के चार साल पूरे होने पर शनिवार की सुबह ट्वीट भी किया था। उन्होंने ट्वीट में लिखा कि 2014 में आज के ही दिन हमने भारत के बदलाव के सफर की शुरुआत की थी। पिछले चार साल में विकास जन आंदोलन बन गया है। देश का हर नागरिक इसमें अपनी हिस्‍सेदारी महसूस कर रहा है। सवा सौ करोड़ भारतीय भारत को नई ऊंचाइयों पर ले जा रहे हैं।

अमेठी-रायबरेली में से एक सीट झटकने पर लगी है भाजपा
पार्टी ने पश्चिम बंगाल में 22 और उड़ीसा में 21 सीट जीतने की योजना का काम शुरू कर दिया है। इसके साथ ही देश के सबसे राज्य उत्तर प्रदेश में बदले सियासी समीकण के बीच 1 सीट अधिक बढने की उम्मीद भाजपा को है। उसकी नजर में गांधी परिवार की अमेठी-रायबरेली में से एक सीट झटकने पर लगी है। इसी तरह दक्षिण भारत और पूर्वोत्तर के राज्यों में नई सीट मिलने की संभावना जताई जा रही है। इस सफलता को हासिल करने के लिए भाजपा 22 करोड़ परिवारों को उनके घर-घर जाकर मिलेगी। साथ ही उनसे अपील करेगी कि वह भ्रष्टाचार मुक्त शासन एवं तेज विकास के आधार पर अगली बार मोदी सरकार को फिर वोट दें।  

गठबंधन के दलों लिए कुर्बानी दे सकती है भाजपा
लोकसभा चुनाव में एनडीए के घटक दलों को इस बार भाजपा नाराज करने के मूड में नजर आती नहीं दिख रही है। भाजपा सभी दलों को उनके हिसाब से जीतने वाली सीटें दे सकती है। जरूरत पड़ी तो वह कुछ सीटों पर कुर्बानी भी दे सकती है। भाजपा महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ेगी, यह तय हो चुका है। इसी तरह बिहार में रामविलास पासवान और कुशवाहा,को उनकी जीतने वाली सीटें मिल सकती हैं। बिहार में तो अब नीतीश कुमार की जेडीयू भी गठबंधन का हिस्सा है। लिहाजा,भाजपा बिहार में कुछ सीटें छोड़ सकती है। ऐसा संकेत भी मिल रहा है। गौरतलब है कि 2014 से लेकर अब तक (2018) 11 नए छोटे-मोटे राजनीतिक दल एनडीए के साथ जुड़ चुके हैं।

4 साल पूरे होने पर चलेगा विशेष अभियान 
पार्टी ने मोदी सरकार के चार साल पूरे होने के मौके पर 27 मई से 11 जून तक विशेष संपर्क अभियान चलाने का ऐलान किया है,जिसके तहत भाजपा के चार हजार वरिष्ठ नेता देश के एक लाख प्रबुद्ध लोगों से संपर्क करेंगे। इसके अलावा पार्टी 26 मई से 11 जूतक तक देश भर में जनसंपर्क का नौ सूत्रीय अभियान भी चलाएगी। जबकि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देशभर की 15 केंद्रीय योजनाओं के लाभार्थियों से ऑडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बात करेंगे।